Woman delivery in flight traveling between two countries confusion over citizenship of child


Image Source: PIXABAY.COM
Delivery in flight

इक देश से भोगी देश जाने के लिये इक महिले से सफर कर रही टी A woman gave birth to a baby at 36,000 feet in the middle of the journey. 30 minutes after the flight took off, the woman went into labor. अग्या बाद में फिल्टित में सफर कर रहे याट्री अवर कुरू की मादाद से महाली ने बैक्षे को जान्म डिया.

The name of the woman who gave birth is Kendria Roden, who is 21 years old. Despite being 32 weeks pregnant, the doctors allowed them to fly, because the delivery time was about 1 month. केंद्रिया अपनी बहेन के साथ अमेरिका से डोमिनिकन रेपुबिक जा रही थिन.

36,000 ফিট্ত ক্র্তি ক্র্যান প্র্বে পার্যান স্র

During the trip, the labor pain began at an altitude of 36,000 feet. इस दुराण साथी पशेंजर्ट अवर क्रॉव करू ने देरीव में केंड्रिय की मादड की . After that, Kendriya gave birth to the child, whose name was Skylen. जब केंद्रिया, डोमिनिका रेब्बुक हैतीन, टो एने में अबेसी में बाचे की बेखें के बेरे की सावले कीय.

Kendria felt that her child’s citizenship would be difficult to take because she was born in trouble, but Skylen was a citizen of the United States. अंग्री मान के राट्डोर्ड की रहेनवाली हैन है.

American Airlines की फिल्त से साफर

Kendria told about the experience of giving birth to a baby in flight. वह American Airlines की फिल्त से साफर कर रही थीन. केंद्रिया पेशे से एक हैटल वरकर हैन. He said that 34 minutes after the take-off of the flight, labor pain started. अरेना कहा की इस दाउरान केबिन क्रूव ने मेरी बहुमत माद की की.

केंड्रिया ने कहा, मुज्जे बस आत्ना याड है की लोग मेरा वीडियो बाना रहे थे अवर जाब में फ्लिट्स से फाउर आा रही टी, टो लोग मुज्जे मुबारकबाद दे रहे थे. Kendra’s sister Kendley Rhoden shared a video. केंदली ने कहा, आश्य मैज्ञे विश्वार की प्रभाष्ट पिडा सुर्ण हो गाया है, टो में चुंक गायी. केंदली ने कहा, मेरी भेहन की मदाद के लीजे चार पशेशन्जर आई. بهن کو پلین ک کے بهاس من لی جایا گایا. 20 मिनट के बाद में ब्लैट में बच्चे के जनम की अनुस्मेंट कर दी गायी.

After birth, the baby was kept in the ICU for four days. Since Kendria was in confusion about her citizenship after the birth of the baby, she went to the American Embassy to clear the case immediately after she came out of the hospital.

Latest World News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.