chandra grahan lunar eclipse 2022 date sutak kaal ka samay effects


Read on the app

Kartik Purnima इस वर्ष आथ नवबबर को है. This is the last lunar eclipse of the year. Chandragrahan lagne ke liye its effect on the festival is also pad raha hai. Actually this day, God Diwali is celebrated, but because of Chandragrahan and the sun, it will be celebrated for one day. शुक्ल पक्ष की पुर्निमा साट नोवर्म सोमुर को ही संध्य 04:16 ब्रेज हो रही है है जो की आट नुवबर मैंगर्स तक 04:32 அக்கு साट को देव दिपावली मानायी जा सकती है.

அத்கு கு குர் 8:20 ஬ாஜை से लाग रहा है सूतक

वेदचार्य पंदित रमेशचंडर त्रिपाथी ने वेदाचर्य पंदित रमेश्चंडर त्रिपाथी ने वेदाचरी को दाउ नव्वबर को दूष्ट 2:41 बैज चंडरगाण शुर्ण हो रहा है है है है है है है है. संध्या 5:30 ब्रेज से 6:19 तक लोग चंडरग्राण देखे अधिना अग्रान से पुले सुबाह 8:20 मिनट बज्ज से सुतक लाग जाइलागा So in the morning after puja, all temples will be closed. After the salvation of Chandragrahan, the temples will be cleaned and the clothes of the deities will be changed at half past six in the evening.

11 নার্ব্র স্র্ব্র স্র্যান্য়া নান্যান ক্র্য়া দিন, ধান কে সোগে বাসাসাত, maan Lakshmi करेंगी करपा

पंदित रामेश्चंडर ट्रिपाथी भाष्टा हैन की ग्राष्ण के समाय विशिष्ट परहेज की है। शास्त्रों के उस्तरों के अस्ट्रों के गर्ण के समाय मंदिर के कापात बांड कर देय जाटे हैन. उजोग को ज़ा की सुतक लागने से पुर्व हि गर में रहे है है के के के लिए जेजे में दुलिस के पाटिल डेन देन. अग्रान काल के दाउरान भोजन करने से बाचना ज़ाई Pregnant women need special care. भाउर नहीन निकलना ज़ाई After the end of the eclipse, mix Ganga water in the water and take a bath and sprinkle Ganga water in the whole house.

आसी लगता है चंडरग्राण

जब चार्जना, प्रथ्विवार के सुर्य के भीच में आजा जाटा है तो सुर्य की रोशिन्य पर ज़नामा पार नहीं पादती है. इस देखें को चंडरग्राण कहेते हैन. आथ नम्बवर को ज़नामा, सुर्य अर्थ्व के बीच आा रहा है. মান্ত্র কাদ্র্ড্যা সান্ড্য 4:57 বাজ্য ক্র্য কান কান কান্তা প্র্যা পাং বাজ সাসান স্সান মানান



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.