Yasin Malik Ends Hunger Strike for two months in Tihar Jail left food and water for these demands


Image Source: FILE PHOTO
Yasin Malik Ends Hunger Strike

Highlights

  • 10 দিন্ন সায়া শ্র্ত্র প্র্তা তাযান তাযান মালিক
  • Mangón ko leker to the relevant authorities told gaya
  • Малик не бух хартал до машаш ке лиее тал ди hai

Yasin Malik Ends Hunger Strike: Kashmiri separatist leader Yasin Malik is in jail in Tihar Jail. पिछले 10 से से भूख भूखहड़तल पप Aभूखs पबैठे बैठेपप नेनेसोमव तबगयेेेे गयगयेे गयकेेेे गयकेे गयकेे गयकोकोको अवगतक अवगतके हैहैहै अवगतक अवगतक गयगये है.

Malik ne 22 जुल्य को तब शुर्ण कार्ण हैर्ट कर दी जाबर दी जाब केंडर ने रुबीया साइड अक्षण मवेले कर रही कर रही कर रही है की अच्च की अधालाट में पुश्य रूप होने की उस्की मंग पर जावा पर जावान दिया. Malik is an accused in the case related to kidnapping. The 56-year-old leader of the Jammu-Kashmir Liberation Front (JKLF) has been jailed for financing.

उत्ताई गायी मांगोन को भेज देशिया गाया है

The officials said that it has postponed its hunger strike for two months on the request of Sandeep Goyal, director general of Delhi Jail. A senior officer of the jail said that the director general told Malik that the charges raised by him have been sent to the relevant authorities and he will be informed about this decision.

ক্লা বি ক্নান সান ক্র্য ক্র কেক্র ক্র্ত

गोयल ने कहकह, “Aजुलमेंई जेलजेल पप पप पप पप नेप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकप मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकप मलिकय मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकअनु मलिकप मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकअनु मलिकमलिक मलिकअनु मलिकअनु मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकअपन मलिकमलिक मलिकमलिक मलिकअपन मलिकअपन मलिकअपन मलिकअपन मलिकअपन मलिकअपन मलिकप अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपनोध मलिकप अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनअपन अपनक अपनक कक कक कक कक अपनक कक कक अपनक अपनक कक कक कक अपनक अपनक क Malik was admitted to the Ram Manohar Lohia (RML) Hospital here last month due to low blood pressure and after returning to jail, he refused to eat anything.

The authorities said that the separatist leader was kept in solitary confinement in the high-risk cell of Tihar prison number-7, where he was transferred to the medical examination room of the prison, where he was given intravenous fluids. अधिक पत्र को हैस्टोल के डोक्टेस को एक पत्तर था, जिस्म कहा गाया था की वह आलाज नहीं कराना चाहता.

Latest India News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.