China News: China is doing nefarious acts again, Chinese activities increased in Doklam, Indian Army Chief reached Bhutan


Image Source: INDIA TV
Chinese illegal activity in Doklam

Highlights

  • Doklam area is used against China against India
  • Satellite photos from China
  • Doklam region of India is strategically important

China News: फिर चिन्य की निग्योटियायान वर्ण है। Satellite photos are revealed. चिन की आसी नापाक हारकतों के भीच भिट्राया सेनाध्य ने भुटान का दूटान की है है. Actually, भारत को गेरेने के लिये चिना आसी नापाक हारकतें कर्ता है. For this reason, वह भारत के भारत के देश बुटान की जामीन क उच्चान के वह नहीं चुक्ता से वह भूता. इक बार फिर दूकलम के कारा कारा बाद्यों में बाउडों है है. भारत-भुटान अवर्ट की शिन्य से लागा से लागा यह आलाका है में बुद्धों रहा है. அயை வார்க்கு में रहे की रणुद्य की वार्ड गुसपैथ करना है.

Actually, Doklam area is used against China by India. हाल ही में सेटेल्टी शेट्री से प्राजा चाला है की चीन आस केश्तर में अध्य रुप से गोरों का रहा का रहा है. इन स्थार्के के में अने के बाद बार्टिया ट्लासेन के के लिए फ़ोटा के बॉटान के फौटन के टुरे पर फ़ोटा हैन हैन हैन. General Manoj Pandey’s visit to Doklam is very important in the wake of the border dispute between China and India. However, the Indian army chief has issued a statement on his visit to Bhutan, saying that the relationship between India and Bhutan is strong. He said in the context of Bhutan’s journey, ‘Yah yatra will further enhance the bilateral relations between the two countries, which have been established from time to time.

भार्टिया विदेशे मनात्राली की तराफ से आया बायान

After the satellite pictures of the houses built in Doklam came to light, the Ministry of Foreign Affairs of India said that India is constantly monitoring all developments related to national security and is taking necessary steps to protect its interests. It is believed that along with the situation of Doklam, the issue of Chinese activities in this region, General Pandey has put his seriousness in the agenda of the talks.

क्या है डोकलाम का बुद्ध

Bhutan shares a border of more than 400 kilometers with China. अब तक भुटान साथ चिना के साथ बुटान बुटान कर चुखा कर चा है Actually, Doklam वेल ही भुटान में स्थिति है है, लेक्ष ये साम्रिक सित्ति से काई अहम अलाका है. चिन आस पर खोचर करेज करें भारत के पूर्वॉट्रा स्थाइल्यों के लिये जाने वाली वाली पर किकन नेक’ माउनलोड करें है. इस आंद्शे के चल्टे भारत पुर्ट राह कातार रहता है This is the reason why Indian soldiers stood in front of the Chinese army for 73 days in Doklam in 2017. अहार में चिनो को हार मानकर अपने सैविकार को जेटर हैताना पादा था था. In 2017, there was a 73-day war between India and China at the Doklam tri-point. উস্ত্যান নানান ক্টান কাতা কায কায় কায়্ত কান কান কান ক্র্ত

Latest World News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.