Rajapaksa government emerged stronger after opposition loses Parliament Deputy Speaker voting


Image Source: FILE PHOTO
Rajapaksa government emerged stronger

Highlights

  • म्रीलंका में संसद ेाध्यक्ष पद
  • सरकार समर्थित उम्मीदवार को जीत मिली बड़ी जीत
  • षाध्यक्ष पद के चुनाव से राजपक्षे की स्थिति मजबूत

Sri Lanka Crisis: श्रीलंका में बृहस्पतिवार को संसद के उपाध्यक्ष पद के लिए गुप्त मतदान के लरिये हुए चुनाव से संकटग्रस्त राजपक्षे परिवार के लिए अहम जीत के तौर द े खे ख जस जीत से सत्तारूढ़ एसएलपीपी गठबंधन की संसद में बहुमत साबित

कस्तीफे के बाद फिर निर्वाचित हुए संसद के उपाध्यक्ष-

उल्लेखनीय है कि देश की अर्थव्यवस्था के कथित कुप्रबंधन के चलते श्रीलंका में सरकार सांसद रंजीत सियामबालापितिया दोबारा उसी पद पर निर्वाचित हुए जिस पद से उन्होंने इस्तीफा दिया था। यह पद संसद के उपाध्यक्ष का है। सियामबालापितिया पूर्व राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना की श्रीलंका फ्रीलंका फ्रीलम उन्होंने अपने पद से इसलिए इस्तीफा दे दिया था क्योंकि उनकी पार्टी ने सरकार से अलग होने का फैसला ि

65 ु ु ब त त 8 8 148

संसद अधअधयकयकषषषषषदनेदनेदनेदनेदनेको संसदमब सियसियललललधधषष पद प केकेगयययययमतों केजबकिकेकेकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोको गयप.. .कोकोकोकोकोकोकोकोकोकोकोककोकोकोकोकोकोकोकोको Q’mरके से अलग अलग अलग अलग अलगबसतसतसतवजूदूढ़ूढ़ पेतपेलमुनमुनमुन पेतसदनमुनथन ततसदनसदनथन ततसदनक ततसदनसदन यहतसदनक जकिथनााा यहतसदनसदन यहमेंमें उपाध्यक्ष पद पर निर्वाचन के बाद सियामबालापितिया ने कहा कि उन्हें सर्वसम्मति से निर्वाचित होने की उम्म

मुखमुखमुखविपकषीषी नेतāh सजीथ कहउनकिेमदेमदेमदसहोंनेहोंनेहोंनेहोंनेहोंनेहोंनेततततततततूढ़ फैसलदौतततततततत कियदौततत कियदौतततत दौसमेगीत प्रेमदासा ने सियामबालापितिया पर ” सरकार की कठपुतली”होने का आरोप लगाया।

राजपक्षे सरकार फिर मजबूत-

उल्लेखनीय है कि सरकार का सदन में बहुमत उस समय संकट में लग रहा था जब सत्तार ूढ़न के करीब उन्होंने यह कदम राजपक्षे परिवार के इस्तीफे की मांग को लेकर हो रहे पप सत्तारूढ़ गठबंधन के अन्य सदस्यों ने भी प्रधानमंत्री हांक्षे हालांकि, राजपक्षे लगातार सदन में बहुमत होने का दावा करते रहे हैं। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि उपाध्यक्ष पद के चुनाव से महिंदा राजपक्षे की स्थिति दोबारा मजबूत हुई।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *