Why Government wants you to update your iPhones, ipads and other apple products


Photo: AP FILE PHOTO

Apple products

Highlights

  • ICERT चेतावनी जारी कर डिवाइस को जल्द से जल्द अपडेट करने के लिए कहा
  • यह ऐप्पल डिवाइसेस में महत्वपूर्ण कमजोरियों को ठीक करने के लिए ई
  • अपडेट प्रॉडक्ट में खोजी गई कमजोरियों में सुधार करता है

द ग क क क क क क क क क क क क क क क न न न न न न न न न न न न न न न न नआईफ, न Apple ने आईफोन (iPhone) यूजर्स के लिए iOS 15.4 अपडेट को रोल आउट करना शुरू कर दिया है। टेट पिछले कुछ समय से काम कर रहा है। टेक दिग्गज कंपनी ऐप्पल न अपे अपने अन्य प्रॉडक्ट जैसे ऐप्पल वॉच पेट प्रॉडक्ट में खोजी गई कमजोरियों में सुधार करता है, इसलिए भारत सरकार चाहती है कि आप भी अपने Apple प्रॉडकट

भभत की सकक की ससिकसइबीी विंगटीमजेंसी अपनेजलिसपतीय एकजलसपतीय एकजलजलपतीय एकजलजलपतीय अपनेजलजलपतीय अपनेजलजलपल अपनेअपनेद अपनेअपडेटदददसेलिएलिएलिएलिए लिए लिएकहकह लिएलिए लिएकने लिए लिएकहकह लिएलिए. यह ऐप्पल डिवाइसेस में महत्वपूर्ण कमजोरियों को ठीक करने के लिए कई सिक्योरि टअपड ंी मंत्रालय के तहत आने वाली ICERT ने Apple यूजर्स के लिए नई चेतावनी जारी की है। हाई रिस्क की चेतावनी Apple iPhone, Apple Watch, Apple TV, Apple iPad, Apple MacBooks ुछर कुछ Apple ऐप यूजर्स के लिए है।

चेतावनी में कहा गया है कि, Apple प्रॉडक्ट में कई खामियों की सूचना दी गई है, जिनका गलत फायदा उच्च विशेषाधिकार प्राप्त करने, सुरक्षा प्रतिबंधों को दरकिनार करने, मनमाने कोड कोड डालने और टारगेट सिस्टम पर संवेदनशील जानकारी का खुलासा करने के लिए उठाया जा सकता ैै। Icert ने अपनी िलीज िलीजमें मेंमेंबतयपपपपपॉडकपॉडकपल मेंमेंटटीपलपल पफॉडकटीीीीीीेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसइशइशइशयूयूयूयूयूयूयूयूयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूयूेंसयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूेंसयूेंसयूयूयूयूयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूयूयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूयूयूयूयूयूयूयूयूेंसयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसयूेंसेंसेंसेंसेंसयूेंसयूयूयूयूयूयूयूेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंसेंस ु ी य ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू ू

ICERT ने अपनी रिलीज में किया खुलासा

ICERT ने अपनी रिलीज में कहा है कि ऐप्पल प्रोडक्ट्स में कई कमजोरियां है जो ‘एक हमलावर को उन्नत विशेषाधिकार प्राप्त करने, मनमाना कोड एग्जीक्यूट करने, संवेदनशील जानकारी का खुलासा करने और लक्षित सिस्टम पर सुरक्षा प्रतिबंधों को बायपास करने की अनुमति दे सकती हैं. ” शबसीधेदों मेंकहें, कहेंमौजूद कमजोऐपंं को कको केसिककिनकिनपल को कोसिककिनसीीस कोतकिटीिटी पहुंचहुएते संवेदनशील संवेदनशीलपहुंचनेपहुंचनेिटीकीकीकीकीकीकी की अनुमति. ICERT उे उन ऐप्स की लिस्ट भी शेयर की है जो जोखिम में हैं।

  • Apple iOS iPadर iPadOS 15.4 से पहले के वर्जन
  • Apple watchOS 8.5 से पहले के वर्जन
  • Apple tvOS 15.4 से पहले के वर्जन
  • Apple iTunes for Windows 12.12.3 से पहले के वर्जन
  • Apple macOS Monterey 12.3 पेप पहले के वर्जन
  • Apple macOS Big ur 11.6.5 से पहले के वर्जन
  • Apple macOS CatalinaApple TV Software 7.9 से पहले के वर्जन
  • Apple GarageBand 10.4.6 से पहले के वर्जन
  • Apple Logic Pro X 10.7.3 पे पहले के वर्जन
  • Apple Xcode 13.3 से पहले के वर्जन





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.